Baaz

बाज़

एल्बम वर्ग: हिन्दी, फ़िल्म
वर्ष: १९५३
संगीतकार: ओ.पी. नय्यर
गीतकार: मजरूह सुल्तानपुरी
लेबल: सारेगामा
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
एल्बम क्रेडिट: MUSIC ASSISTANTS: G.S. Kohli, Sebastian D'Souza.
 
फ़िल्म क्रेडिट: निर्देशक: गुरु दत्त. निर्माता: हरिदर्शन कौर. कथा: गुरु दत्त. पटकथा: गुरु दत्त. संवाद: एल.सी. बिस्मिल, अधिक...
 



गाने


 
ज़रा सामने आ ज़रा आँख मिला
गायक: गीता दत्त
संगीतकार: ओ.पी. नय्यर
गीतकार: मजरूह सुल्तानपुरी
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
ऐ वतन के नौजवाँ जाग
गायक: गीता दत्त
संगीतकार: ओ.पी. नय्यर
गीतकार: मजरूह सुल्तानपुरी
शैली: फ़िल्मी, मार्चिंग बैंड
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
तारे चाँदनी अफ़साने समाँ प्यार के हैं सुहाने
गायक: गीता दत्त
संगीतकार: ओ.पी. नय्यर
गीतकार: मजरूह सुल्तानपुरी
शैली: फ़िल्मी, सुगम
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
माझी अलबेले चलो रे हौले हौले
गायक: गीता दत्त
संगीतकार: ओ.पी. नय्यर
गीतकार: मजरूह सुल्तानपुरी
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
जो दिल की बात होती है
गायक: मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: ओ.पी. नय्यर
गीतकार: मजरूह सुल्तानपुरी
शैली: सूफ़ी/कव्वाली
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
ऐ दिल ऐ दीवाने आग लगा ली क्यों
गायक: गीता दत्त
संगीतकार: ओ.पी. नय्यर
गीतकार: मजरूह सुल्तानपुरी
शैली: सुगम, फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
मुझे देखो हसरत की तस्वीर हूँ मैं
गायक: तलत महमूद
संगीतकार: ओ.पी. नय्यर
गीतकार: मजरूह सुल्तानपुरी
शैली: ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
जागो जागो सवेरा हुआ रात गई
गायक: गीता दत्त
संगीतकार: ओ.पी. नय्यर
गीतकार: मजरूह सुल्तानपुरी
शैली: फ़िल्मी
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 

पुरस्कार


 
  • पुरस्कारों की जानकारी उपलब्ध नहीं है

सामान्य ज्ञान


 

    एल्बम

  • After his directorial success in "Baazi" (1951) and "Jaal" (1952), Guru Dutt wanted to launch his own production house but did not have the financial means to do so. Seeing his predicament, Geeta Bali got her sister Hardarshan Kaur to pitch in as a co-producer for this 1953 film. It was also Geeta Bali, who convinced Guru Dutt to play the lead role in this film. This was Guru Dutt's first film in a lead role.[MR15]



प्रतिक्रिया