The Master & His Magic - Jagjit Singh

द मास्टर एंड हिज़ मैजिक - जगजीत सिंह

एल्बम वर्ग: हिन्दी, गैर फ़िल्मी
वर्ष: २०१२
संगीतकार: जगजीत सिंह
गीतकार: मिर्ज़ा ग़ालिब, बशीर बद्र, फ़राघ रुशवी, साहिर भोपाली, वसीम बरेलवी
कलाकार: जगजीत सिंह
लेबल: सोनी म्यूज़िक
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 



गाने


 
तू अम्बर की आँख का तारा
 
गायक: जगजीत सिंह
संगीतकार: जगजीत सिंह
गीतकार: वसीम बरेलवी
कलाकार: जगजीत सिंह
शैली: ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
देखा जो आईना
गायक: जगजीत सिंह
संगीतकार: जगजीत सिंह
गीतकार: फ़राघ रुशवी
कलाकार: जगजीत सिंह
शैली: ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
जाओ अब सुबह होने वाली है
 
गायक: जगजीत सिंह
संगीतकार: जगजीत सिंह
कलाकार: जगजीत सिंह
शैली: ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
रो लेते तो अच्छा होता
 
गायक: जगजीत सिंह
संगीतकार: जगजीत सिंह
कलाकार: जगजीत सिंह
शैली: ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
आहों में है असर
 
गायक: जगजीत सिंह
संगीतकार: जगजीत सिंह
कलाकार: जगजीत सिंह
शैली: ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
रोने से और इश्क़ में बेबाक हो गए
 
गायक: जगजीत सिंह
संगीतकार: जगजीत सिंह
गीतकार: मिर्ज़ा ग़ालिब
कलाकार: जगजीत सिंह
शैली: ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
तू जो आ जाए
 
गायक: जगजीत सिंह
संगीतकार: जगजीत सिंह
गीतकार: बशीर बद्र
कलाकार: जगजीत सिंह
शैली: ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
वो फ़िराक
 
गायक: जगजीत सिंह
संगीतकार: जगजीत सिंह
गीतकार: मिर्ज़ा ग़ालिब
कलाकार: जगजीत सिंह
शैली: ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 
दिल में अब दर्द-ए-मोहब्बत के सिवा
गायक: जगजीत सिंह
संगीतकार: जगजीत सिंह
गीतकार: साहिर भोपाली
शैली: ग़ज़ल
सम्पूर्ण रेटिंग:
मेरी रेटिंग:
 

पुरस्कार


 

सामान्य ज्ञान


 
  • सामान्य ज्ञान उपलब्ध नहीं है



प्रतिक्रिया